चार धाम के तीर्थ पुरोहितों ने दिल्ली में विश्व हिंदू परिषद के शीर्ष नेतृत्व से की मुलाकात, देवस्थानम विधेयक रद्द करने की मांग, जानिये

सुमित यशकल्याण

दिल्ली।चार धाम तीर्थ पुरोहितों के प्रतिनिधि मंडल ने आज दिल्ली में विश्व हिंदू परिषद के केंद्रीय कार्यालय में बीएचपी के राष्ट्रीय संरक्षक एवं अन्य पदाधिकारियों से भेंट की । इस दौरान तीर्थ पुरोहितों ने उत्तराखंड सरकार द्वारा बनाए ग ए चार धाम देवस्थानम प्रबंधन विधेयक को भंग करने की मांग की । बीएचपी के पदाधिकारियों ने तीर्थ पुरोहितों को आश्वासन दिया कि वे इस मांग को लेकर तीर्थ पुरोहितों के साथ खड़े हैं।
बृहस्पतिवार को अपने तय कार्यक्रम के अनुसार चार गंगोत्री मंदिर समिति के अध्यक्ष सुरेश सेमवाल के नेतृत्व में विश्व हिंदू परिषद के केंद्रीय मुख्यालय में परिषद के वरिष्ठ पदाधिकारियों से मिले। इस दौरान उत्तराखंड राज्य सरकार द्वारा वर्ष 2019 में चार धाम देवस्थानम प्रबंधन एक्टर देवस्थानम बोर्ड बनाए जाने से संबंधित विस्तार से जानकारी दी । विश्व हिंदू परिषद के राष्ट्रीय संरक्षक दिनेश जी को इससे संबंधित ज्ञापन भी प्रेषित किया ।

प्रवक्ता डा बृजेश सती नने बताया कि ज्ञापन में मांग की गई है कि उत्तराखंड सरकार देवस्थानम बोर्ड को भंग कर पूर्व स्थिति बहाल करें । विश्व हिंदू परिषद के संरक्षक डॉ दिनेश जी ने कहा कि परिषद तीर्थ पुरोहितों के साथ खड़ी है। इस संबंध में बीएचपी जल्दी अपनी रणनीति का खुलासा करेगी। प्रतिनिधिमंडल में गंगोत्री मंदिर समिति के अध्यक्ष सुरेश सेमवाल के अलावा डॉ बृजेश सती ,राजेश सेमवाल ,महेश सेमवाल ,अनुरुद उनियाल मौजूद थे।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *