कुम्भ समाप्ति के बाद मेला क्षेत्र में फैली गंदगी की दुर्गंध के कारण आसपास के निवासियों का रहना दुश्वार-संजय चोपड़ा।

सुमित यशकल्याण

हरिद्वार। कुंभ मेला 2021 के शाही स्नान संपन्न हो जाने के उपरांत समस्त मेला क्षेत्र बैरागी कैंप, रोड़ी बेलवाला, पंतदीप, चंडी द्वीप इत्यादि क्षेत्रों में तीर्थयात्रियों व साधु-महात्माओं के लिए बनाए गए अस्थाई-स्थाई रूप से सार्वजनिक शौचालय का मल-मूत्र सड़कों पर बहने से समस्त मेला क्षेत्र की दुर्गंध से आसपास के क्षेत्र वासियों को निजात दिलाए जाने के उद्देश्य से कृषि उत्पादन मंडी समिति के पूर्व अध्यक्ष और भाजपा नेता संजय चोपड़ा ने मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत से मांग की कि कुंभ मेला समाप्त हो जाने के उपरांत तीर्थयात्रियों, साधु-संतों द्वारा छोड़ी गई गंदगी को युद्ध स्तर पर कीटाणुनाशक रसायन के छिड़काव के साथ सफाई की व्यवस्था सुचारू रूप से की जाए।

संजय चोपड़ा ने कहा कि बैरागी कैंप व समस्त मेला क्षेत्र में जितने भी सार्वजनिक शौचालय बनाए गए थे उनका मल-मूत्र कुंभ मेला समाप्ति के उपरांत सीवरेज पम्पिंग टैंको के माध्यम से उठाया जाना था, लेकिन स्थानीय जिला प्रशासन व नगर निगम प्रशासन इस और ध्यान नहीं दे रहा है, जिसके कारण समस्त क्षेत्रों में टूटे-फूटे नल के कारण शुद्ध पेयजल की बर्बादी हो रही है तो वहीं गंदगी की दुर्गंध के कारण आसपास के निवासियों का रहना दुश्वार होता चला आ रहा है। उन्होंने कहा कि एक तरफ तो अंतर्राष्ट्रीय महामारी कोरोना से जनता पहले ही त्रस्त होकर पीड़ित है और सही इलाज ना मिलने के कारण कोरोना के मरीज अपनी जान गंवा रहे हैं, वहीं मेला क्षेत्र में कुंभ मेला समाप्ति के उपरांत यदि साफ-सफाई की और ध्यान नहीं दिया गया तो कई संक्रमित बीमारियों के उत्पन्न होने की प्रबल संभावनाएं है, इसको ध्यान में रखते हुए यदि नगर निगम प्रशासन द्वारा उचित प्रबंधनों के साथ कार्य नही किये गए तो आंदोलन किये जायेंगे।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *