श्री राम मंदिर निर्माण मे नही चाहिए मौहम्मद फैज की लाई हुई मिटटी — महंत लोकेश दास ,

हरिद्वार / हरीश कुमार

लंबे संघर्ष एवं कानूनी लड़ाई के बाद आखिर वह शुभ घड़ी आ ही गई है जब अयोध्या में भगवान श्री राम के मंदिर का शिलान्यास 5 अगस्त को होने जा रहा है। राम मंदिर निर्माण को लेकर लंबी लड़ाई लड़ने वाले हरिद्वार के वरिष्ठ सन्त ब्रह्मलीन जगतगुरु रामानंदाचार्य स्वामी हंसादेवाचार्य महाराज के शिष्य महंत लोकेश दास ने मंदिर के निर्माण में मौहम्मद फैज द्वारा मिट्टी लाए जाने का विरोध किया है ।बाबा लोकेश दास ने बयान जारी कर कहां है कि हमें श्री राम मंदिर निर्माण में किसी भी फैज के हाथ की मिट्टी नहीं चाहिए और ना ही किसी फैज द्वारा लाई मिट्टी को मंदिर की नींव में रखा जाएगा । उन्होंने कहा कि आज मंदिर निर्माण इन लोगों को एकता का प्रतीक दिखाई दे रहा है अगर एकता वाली बात होती तो हमें कोर्ट में इतनी लंबी लड़ाई ना लड़नी पड़ती , यह बाबर के आतंकवाद और हमारी सात पीढ़ियों के बलिदान का परिणाम है। हमने लाखों बलिदान दिए जब जाकर यह शुभ घड़ी आई है उन्होंने कहा है कि यह पीढ़ी धन्य है जो भगवान श्री राम के मंदिर को बनता हुआ अपनी आंखों से देखने जा रही है साथ ही उन्होंने कहा है कि अगर एकता की बात दिखाना ही चाहते हो तो सबसे पहले 5 अगस्त को ओवैसी अपने घर में भगवान श्री राम के दीए जलाए और हमारी काशी और मथुरा को छोड़ दें , उन्होंने कहा है कि हमारी 7 पीढ़ियों के बलिदान ने हमें राम मंदिर दिया है हमें संकल्प लेना होगा कि हम उन्हें काशी और मथुरा देंगे,

बता दे कि राममंदिर शिलान्यास के लिए छत्तीसगढ़ के चांदकुरी गांव से मोहम्मद फैज मिट्टी लेकर जा रहे हैं। चांदकुरी गांव को भगवान राम का ननिहाल माना जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *