अखाड़ा परिषद की वृंदावन में 15 अक्टूबर को होने वाली बैठक स्थगित, कारण जाने,

हरिद्वार/ गोपाल रावत


हरिद्वार। श्रीपंच दशनाम जूना अखाड़े के वरिष्ठ संत स्वामी मुक्तानंद का गुजरात के जूनागढ़ गिरिनार में ब्रहमलीन हो जाने से 15अक्टूबर को अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद की होने वाली बैठक स्थगित कर दी गयी है। वही अखाड़ा परिषद के महामंत्री व अखाड़ा के अन्र्तराष्ट्रीय संरक्षक श्रीमहंत स्वामी हरि गिरि महाराज गिरिनार गुजरात के लिए रवाना हो गये है। यह जानकारी अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के महामंत्री श्रीमहंत स्वामी हरिगिरि महाराज ने दी। उन्होने बताया कि जूनागढ़ गिरिनार कमंडल कुण्ड श्री दत्ता महाराज चरणपादुका के गादीपति श्रीमहंत मुक्तानंद गिरि महाराज सोमवार दोपहर में ब्रहमलीन हो गए। जैसे ही उनके ब्रहमलीन होने की सूचना अखाड़े को मिली,संतो में शोक छा गया। अखाड़ा के संतो ने दुःख जताया।

अखाड़ा के अन्र्तराष्ट्रीय संरक्षक श्रीमहंत स्वामी हरिगिरि व अन्र्तराष्ट्रीय सभापति श्रीमहंत प्रेमगिरि महाराज सहित विभिन्न महंतो,संतो व साधुओं ने स्वामी मुक्तानंद के ब्रहमलीन होने पर गहरा शोक जताते हुए इसे अखाड़े के लिए व्यापक क्षति बताया। ब्रहमलीन होने की सूचना मिलते ही श्रीमहंत स्वामी हरिगिरि महाराज जूना गढ़ गिरिनार के लिए रवाना हो गये। दूसरी ओर जूना अखाड़ा के संत के ब्रहमलीन होने पर अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद की वृन्दावन में होने वाली महत्वपूर्ण बैठक स्थगित कर दी गयी है। इस बैठक में हरिद्वार में होने वाले कुम्भ 2021 पर व्यापक चर्चा के अलावा अन्य कई महत्वपूर्ण बिन्दुओं पर चर्चा उपरांत निर्णय पारित किया जाना था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *