200 महिलाएं आज घरबार, मोह, माया छोड़ बनेंगी नागा सन्यासी, जूना अखाड़े में आज से प्रक्रिया शुरू, जानिए

सुमित यशकल्याण


हरिद्वार। श्रीपंच दशनाम जूना अखाड़े में बुधवार को करीब दो सौ महिला साधुओं को नागा सन्यासी बनाने की प्रक्रिया प्रारम्भ होगी। इस दौरान नाग सन्यासी बनाने की सभी प्रक्रियाओं का पालन कराया जायेगा। प्रक्रिया बिड़ला घाट पर शुरू होगी।

यह जानकारी जूना अखाड़े के अन्र्तराष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्रीमहंत विद्यानन्द सरस्वती ने बताया कि बुधवार को बिड़ला घाट पर करीब दो सौ महिला नागा सन्यासियों को दीक्षित किये जाने की प्रक्रिया प्रारम्भ होगी। जिस प्रकार मंगलवार को एक हजार नागा सन्यासियों को दीक्षित किये जाने की प्रक्रिया दो दिन में सम्पन्न हुई,उसी तरह इन महिला सन्यासियों के भी दीक्षित किये जाने की प्रक्रिया पूर्ण की जायेगी। बुधवार से प्रारम्भ होकर सन्यासी बनाने की प्रक्रिया गुरूवार को सुबह सम्पूर्ण होगी। उन्होने बताया कि महिला नागा सन्यासियों को दीक्षित किये जाने से पूर्व पहले ही उन्हे कठोर नियमों का पालन कराया गया है।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *