पेड़ो को अपने पूर्वजों और देवी देवताओं के रूप में पूजकर पर्यावरण को करे संरक्षित- हरिगिरि महाराज

सुमित यशकल्याण

ऑक्सीजन की किल्लत दूर करने के लिए करें पेड़ों का संरक्षण …श्री महंत हरिगिरि महाराज


हरिद्वार। श्री अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय महामंत्री और पंच दशनाम जूना अखाड़ा के अंतरराष्ट्रीय संरक्षक श्री महंत हरिगिरि महाराज ने देश में कोरोना काल के दौरान बढ़ रही ऑक्सीजन की किल्लत पर गहरी चिंता जताई है। उन्होंने कहा कि विकास की अंधी दौड़ के नाम पर पेड़ों का कटान किए जाने की वजह से यह स्थिति बनी। उन्होंने लोगों से अधिक से अधिक पौधे रोपने खासकर पीपल के पौधे लगाने का आह्वान किया । उन्होंने कहा कि जूना अखाड़ा बड़े पैमाने पर पौधारोपण अभियान भी चलाएगा ।
श्री हरिगिरि महाराज रविवार को कुंभ मेला प्रशासन के अधिकारियों से मिले। इस दौरान उन्होंने विपरीत परिस्थितियों और कोरोना जैसी महामारी की चुनौतियों के बीच बेहद सफल तरीके से कुंभ संपन्न कराने पर कुंभ मेला अधिकारी दीपक रावत और अपर मेला अधिकारी हरवीर सिंह आदि अधिकारियों को साधुवाद दिया। कुंभ के दौरान पेड़ों के संरक्षण के लिए भी उन्होंने अधिकारियों की प्रशंसा की ।

उन्होंने पेड़ों के संरक्षण के लिए मेला प्रशासन द्वारा बनाए गए मानव हाथ रूपी संरक्षण प्रतीक चिन्ह को सराहनीय पहल बताया। उन्होंने कहा कि कोई भी काल रहा हो राजा महाराजाओं और संतों ने हमेशा प्रकृति के संरक्षण के लिए कार्य किया है। संत समाज ने महापुरुषों के ब्रह्मलीन हो जाने पर उनकी देह को समाधि दिए जाने की परंपरा पेड़ों का संरक्षण करने के लिए ही शुरू की थी। आज विकास के नाम पर पेड़ों का कटान किया जाना मानव के सामने बड़ी चुनौती बन गया है। इसी की वजह है कि पूरे विश्व में ऑक्सीजन की कमी बढ़ती जा रही है और बड़ी संख्या में लोग कोरोना काल में असमय मृत्यु का शिकार हो रहे हैं।
उन्होंने कहा कि हम सभी को ऐसे विकल्प चुनने चाहिए जिससे पेड़ों का कटान ना करना पड़े, साथ ही अपने पूर्वजों की स्मृति में अपने यादगार लम्हों को और ज्यादा या खुशहाल बनाने, बच्चों के जन्मदिन आदि पर पौधे लगाने चाहिए। खास तौर पर पीपल के पेड़ अधिक से अधिक संख्या में लगाने चाहिए क्योंकि पीपल का पेड़ 24 घंटे ऑक्सीजन देता है। ऐसा करके हम ऑक्सीजन की कमी को दूर कर सकते हैं । जूना अखाड़ा की ओर से पर्यावरण संरक्षण का संकल्प दोहराते हुए उन्होंने कहा कि देशभर में बड़े पैमाने पर पौधारोपण अभियान अखाड़े की ओर से चलाया जाएगा ।
इस दौरान कुंभ मेला अधिकारी दीपक रावत और अपर मेला अधिकारी हरवीर सिंह ने कुंभ मेले के दौरान मिले अप्रतिम सहयोग और साधुवाद के लिए श्री महंत हरिगिरी महाराज का आभार भी जताया।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *