कोरोना महामारी मे परिवार की खातिर बच्ची ने डाली जान जोखिम में , जानिए पूरा मामला।

हरिद्वार/ तुषार गुप्ता

 

जहां पूरा देश कोरोना महामारी और इसके कारण बेरोजगारी और गरीबी से जूझ रहा है वही ऐसे लोग भी हैं जो अपना परिवार चलाने के लिए अपनी जान की बाजी लगा रहे हैं। हरिद्वार में भ्रमण करते और करतब दिखाते हुए यह बच्ची आपको जरूर दिखी होगी। यह बच्ची मात्र 3 साल की है जो कोरोना काल में परिवार के पालन पोषण के लिए यह जोखिम भरा काम कर रही है। जहा समाज द्वारा बेटियो को चारदीवारी में बंद करके रखा जाता है और उन्हें पुरुषों से कम योग्य समझा जाता है। वही इस बच्ची ने अपने बचपन में ही करतब करके अपने घर वालों का पालन पोषण कर रही है। बच्ची की मां भी इसका पूरा साथ देती है इसे यह करतब और कलाबाजी इसकी मां से ही सीखने को मिली है। इसकी मां का कहना है हम अपनी बेटी को पढ़ाने में असमर्थ है और हमारे परिवार का पोषण ढंग से नहीं हो पाता इसलिए हमें इस कोरोना काल में भी घर से निकल कर यह जोखिम भरा काम अपने घर वालों के पोषण के लिए करना पड़ता है। लॉकडाउन के कारण लोग अपने घर से बाहर नहीं निकल पाते तो इससे इन्हें काफी नुकसान भी होता है। उनकी मां ने  यह कलाकारी छोटी बच्ची को इसलिए बचपन में सिखा दी क्योंकि आजकल बेरोजगारी का जमाना है और ऐसे में आदमी की कला ही उसे दो वक्त की रोटी दिला रही है।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *