श्री गंगा सभा के पदाधिकारियों ने की हरिगिरि महाराज से मुलाकात, पेशवाई मार्ग को लेकर हुआ विचार विमर्श

सुमित यशकल्याण

हरिद्वार। श्री गंगा सभा के अध्यक्ष प्रदीप झा, महामंत्री तन्मय वशिष्ट, स्वागत मंत्री डॉ सिद्धार्थ चक्रपाणि, और पंडित शैलेश गौतम ने आज जूना अखाड़ा पहुंचकर अखाड़ा परिषद के महामंत्री स्वामी हरिगिरि महाराज से मुलाकात कर अखाड़े के पेशवाई मार्ग को लेकर चर्चा की,

गंगा सभा के प्रतिनिधि मंडल ने आज जूना अखाड़े द्वारा श्यामपुर कांगड़ी से अपने अखाड़े सहित अग्नि अखाड़े और आह्वान अखाड़े की पेशवाई की घोषित तिथियों के संबंध में हरि गिरि महाराज से बातचीत की। उन्होंने निवेदन किया कि जूना अखाड़े, अग्नि अखाड़े और आह्वान अखाड़े की पेशवाई पांडे वाला ज्वालापुर से निकलती है और यह बहुत प्राचीन परंपरा है जिसको समाप्त नहीं किया जाना चाहिए, इन अखाड़ों की पेशवाई पांडे वाले से ही निकाली जानी चाहिए। जिस पर सहमति जताते हुए हरि गिरि महाराज ने कहा कि 17 फरवरी को अखाड़े और गंगा सभा का एक प्रतिनिधिमंडल पेशवाई के पुराने रास्ते का निरीक्षण कर वैकल्पिक मार्ग की तलाश करेगा। पेशवाई ज्वालापुर के पांडे वाले से निकाली जाए यह सुनिश्चित करेगा, बता दें कि आज जूना अखाड़े द्वारा अग्नि अखाड़े और आह्वान अखाड़े की धर्म ध्वजा, नगर प्रवेश और पेशवाई की तिथि घोषित की गई थी। जिसमें अखाड़े ने श्यामपुर कांगड़ी से नगर प्रवेश और पेशवाई निकाल कर पर छावनी में प्रवेश की तिथि घोषित की थी साथ ही अखाड़े द्वारा पेशवाई के रास्तों पर विकल्प तलाशने की भी बात कही गई थी, जिसके बाद आज गंगा सभा के पदाधिकारियों ने हरि गिरि महाराज से मिलकर प्राचीन परंपरा को जीवित रखते हुए पांडे वाले से पेशवाई निकालने का निवेदन किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *