ऑनलाइन धार्मिक कर्मकांड धर्म एवं शास्त्रों का अपमान -पंडित अधीर कौशिक, अध्यक्ष श्री अखंड परशुराम अखाड़ा,

हरिद्वार। हरीश कुमार

हरिद्वार। पित्र पक्ष में कुछ कर्मकांड कराने वाले कर्मकांडी पंडित ऑनलाइन श्राद्ध और पिंडदान करा रहे हैं जिसका श्री अखंड परशुराम अखाड़े ने कड़ा विरोध किया है, श्री अखंड परशुराम अखाड़े के अध्यक्ष पंडित अधीर कौशिक ने ऑनलाइन कर्मकांड कराने पर कड़ा विरोध जताते हुए कहां है कि ऑनलाइन धार्मिक कर्मकांड कराना धर्म और देवी, देवताओं का अपमान है इस तरह की परंपराओं से समाज और मानव का पतन निश्चित है इस तरह के परम्पराओ से लोग नास्तिक हो जाएंगे और तीर्थ की महिमा मिट जाएगी साथ ही वैदिक परंपराओं को भी नुकसान होगा, उन्होंने इसे कलयुग का प्रभाव बताते हुए कहां कि कुछ कर्मकांडी पंडित लालच में इस तरह से ऑनलाइन कर्मकांड करके पाप के भागीदार बन रहे हैं, ऐसे लोगों पर ब्राह्मण समाज को कार्रवाई करते हुए ऑनलाइन कर्मकांड को बंद कराना चाहिए, अगर समय रहते इस तरह के धर्म विरोधी कार्यो को रोका नहीं गया तो आने वाले समय में इसके घातक परिणाम देखने को मिलेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *