बैरागी के तीनो अखाड़ों ने खोला सरकार के खिलाफ मोर्चा, अखाड़ा परिषद की कार्यशैली को लेकर भी रोष, देखे वीडियो

हरिद्वार / हरीश कुमार

हरिद्वार। 4 महीने बाद हरिद्वार में कुंभ मेले का आयोजन होने वाला है जिसको लेकर अखाड़ा परिषद, सरकार और मेला प्रशासन लगातार बैठक करके तैयारियों में जुटा हुआ है इन्हीं तैयारियों के बीच हरिद्वार के बैरागी क्षेत्र में प्रशासन द्वारा बैरागी के तीनों अखाड़े निर्मोही, निर्वाणी और दिगंबर की स्थापित चरण पादुका को अतिक्रमण के नाम पर हटाने का नोटिस भेजा दिया है नोटिस के बाद बैरागी सम्प्रदाय के तीनों अखाड़ा के संतो में उबाल आ गया है आज हरिद्वार के बैरागी क्षेत्र में तीनों अखाड़ों के संतो ने प्रेस वार्ता कर मेला प्रशासन से दी जाने वाली सभी सुविधाओं के बहिष्कार की घोषणा कर दी है, इस मौके पर महंत धर्मदास महाराज, महंत राजेंद्रदास सहित अन्य संतों ने कहाँ कि आदिकाल से बैरागी कैंप बैरागी अखाड़ों के लिए आरक्षित रहा है और इस जमीन पर भू माफियाओं ने कब्जे कर लिए है प्रशासन भूमाफिया द्वारा कुंभ मेले की जमीन पर किए गए कब्जे को हटाने की बजाएं हमारी चरण पादुका को अतिक्रमण के नाम पर हटाने का नोटिस भेज रहा है, जिसके विरोध में उन्होंने मेला प्रशासन से मिलने वाली सभी सुविधाओं के बहिष्कार की घोषणा कर दी है साथ ही उन्होंने कुंभ मेले में सरकार द्वारा प्रत्येक अखाड़े को दिए जा रही 1-1 करोड़ की धनराशि से बैरागी क्षेत्र में अखाड़ों का स्थाई निर्माण करने की भी मांग की है, उन्होंने चेतावनी दी है कि अगर जल्द ही सरकार ने उनकी मांगों को गंभीरता से नहीं लिया तो जरूरत पड़ने पर कुम्भ मेले का भी बहिष्कार किया जा सकता है इस मौके पर उन्होंने अखाड़ा परिषद की कार्यशैली के प्रति भी अपना रोष व्यक्त किया है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *