किसानों की आय दोगुनी करने की प्रधानमंत्री की योजना का लाभ उठाकर अच्छा मुनाफा कमा रहा है हरिद्वार का ये युवा किसान,

सुमित यशकल्याण

(हरिद्वार ) जब भारत सरकार के बजट में किसानों की आय दोगुनी करने को प्रधानमंत्री के सपने को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण अपने बजट के माध्यम से साकार कर रही थी। वही हरिद्वार जिले के सीमांत गांव बुग्गावाला में युवा किसान प्रधानमंत्री के सपने को खेत खलियान में धरातल पर उतारने के लिए जी जान से लगा था उस युवा किसान ने प्रधानमंत्री के सपने को उतारने के आत्मनिर्भर भारत के तहत स्वदेशी निर्मित सेमी मशरूम प्लांट लगाया और यह किसान कई वर्षों से बंजर जमीन पर शिमला मिर्च और गेहूं की फसल लगाकर जैविक खेती करके बड़े बड़े कॉरपोरेट घरानों और कंपनियों को अपनी उपज बेचकर कर जबरदस्त मुनाफा कमा रहा है। सरकारी मंडियों के मकड़जाल से बाहर निकल कर आसपास के किसानों को जैविक खाद बीज उपलब्ध करा रहे हैं और स्थानीय लोगों को जबरदस्त रोजगार दे रहे हैं । ये किसान है मनमोहन भारद्वाज इनके घर पर पैतृक खेती होती है खेती की बारीकियों को भली-भांति जानते हैं और नई कृषि नीति के फायदे बताते हैं उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने केंद्रीय बजट में कृषि सेस लगाकर किसानों के हित के लिए कार्य किया है। ताकि किसानों की आय दोगुनी हो सके उन्होंने कहा कि जो लोग विरोध कर रहे हैं, वे सिर्फ राजनीतिक विरोध है और स्वार्थ वश है उसका देश के आम किसान से कोई लेना देना नहीं है।

हरिद्वार के बुग्गावाला में मशरूम के सेमी आटोमेटिक स्वदेशी निर्मित प्लांट का उद्घाटन उत्तराखंड के कृषि मंत्री सुबोध उनियाल ने किया। इस अवसर पर कई किसान और कृषि विशेषज्ञ मौजूद थे । उत्तराखंड के कृषि मंत्री ने कृषि सेस और नई कृषि नीति को किसानों के हित में बताया और कहा कि बजट में केंद्रीय वित्त मंत्री ने किसानों के हित को सर्वोपरि रखा है, उन्होंने कहा कि मशरूम की खेती उत्तराखंड के पर्वतीय क्षेत्रों के लिए बहुत माकूल है राज्य सरकार इसके लिए जल्दी एक नई नीति लेकर आ रही है जिससे युवाओं को रोजगार मिलेगा और प्रधानमंत्री का आत्म निर्भर भारत का सपना पूरा होगा कृषि मंत्री उनियाल ने केंद्रीय बजट में कृषि सेस लगाने का समर्थन किया उत्तराखंड के कृषि मंत्री सुबोध उनियाल ने केंद्रीय आम बजट में पेट्रोल डीजल पर कृषि सेस लगाए जाने का स्वागत किया है। उन्होंने कहा कि कृषि सेस से देश मे कृषि का आधारभूत ढांचा और मज़बूत करने में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि इससे किसानों को बुनियाद सुविधांए में बहुत फायदा होगा जिससे किसानों की लागत भी कम हो सकेगी और उन्हें अधिक लाभ मिल सकेगा।

हरिद्वार जिले के बुग्गावाला गांव में सुबोध उनियाल नेचर बेस्टो ऑटोमेटिक प्लांट का उद्घाटन कर रहे थे , उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में मशरूम की खेती की पहाड़ों में बहुत संभावनाएं हैं क्योंकि वहां का वातावरण मशरूम की खेती के लिए बहुत उपर्युक्त है यह प्लांट प्रधानमंत्री ने नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट आत्मनिर्भर भारत का पहला स्वदेशी प्लांट है जो आत्मनिर्भर भारत बनाने और स्वरोजगार पैदा करने की दिशा में एक मील का पत्थर साबित होगा।

नेचर बेस्टो प्लांट के सीईओ मनमोहन भारद्वाज ने कहा कि बुग्गावाला की बंजर जमीन पर मशरूम उत्पादन और शिमला मिर्च की विभिन्न प्रजातियों के उत्पादन की बहुत संभावना है यह प्लांट प्रधानमंत्री के नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट आत्मनिर्भर भारत के तहत देश का पहला स्वदेशी प्लांट है जो आत्मनिर्भर भारत बनाने और स्वरोजगार पैदा करने की दिशा में एक मील का पत्थर साबित होगा यह प्लांट इको फ्रेंडली प्लांट है इसमें प्लास्टिक का प्रयोग बिल्कुल नहीं होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *