पांच फीट से अधिक ऊंचाई पर बनाए जाएं देवी देवताओं के चित्र-पंडित अधीर कौशिक

सुमित यशकल्याण


हरिद्वार । श्री अखण्ड परशुराम अखाड़े के अध्यक्ष पंडित अधीर कौशिक ने मेला अधिकारी को ज्ञापन देकर मेला प्रशासन द्वारा दीवारों पर बनवाए जा रहे देवी देवताओं, ऋषि मुनियों के चित्रों पर पशुओं व लोगों द्वारा मूत्र विसर्जन किए जाने पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए सुधार करने की मांग की है। पंडित अधीर कौशिक द्वारा इस मुद्दे को जनपद के प्रभारी मंत्री सतपाल महाराज के समक्ष भी उठाया गया है। पंडित अधीर कौशिक ने कहा कि मेला प्रशासन द्वारा नगर की दीवारों, घाटों, पुलों के पिलरों पर प्रकृति, देवी देवताओं, ऋषि मुनियों के चित्र पेंटिंग के माध्यम से दर्शाये गये हैं। भारतीय संस्कृति को दर्शाने वाले ये चित्र अति प्रशसंनीय और मनमोहक भी हैं। लेकिन इस प्रशसंनीय कार्य में एक बड़ी मानवीय भूल देखने में आयी है। कई स्थानों पर देवी देवताओं और ऋषि मुनियों के चित्र दीवारों व पिलरों पर इतना अधिक नीचे बना दिए गए हैं कि पशु और कुछ अशिक्षित लोग इन पर मूत्र विसर्जन व थूक रहे हैं। जिससे भारतीय सनातन परंपरा और संस्कृति में आस्था रखने वाले लोगों की भावनाएं आहत हो रही हैं। उन्होंने मांग करते हुए कहा कि मेला प्रशासन कार्यदायी संस्था को तत्काल निर्देश जारी करे कि किसी भी देवी देवता, ऋषि मुनि का चित्र कम से कम पांच फीट की ऊंचाई से कम पर बनाया ना जाए। जिससे श्रद्धालुओं की धार्मिक भावनाएं आहत ना हों।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *