किसानों की मांग नही मानी तो संत करेंगे कुम्भ मेला का बहिष्कार, चेतावनी और समर्थन

Haridwar सुमित यशकल्याण

(हरिद्वार) युवा भारत साधु समाज के संतों ने राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी शिवानंद जी महाराज ,राष्ट्रीय उपाध्यक्ष महन्त जगजीत सिंह जी महाराज , राष्ट्रीय महामंत्री महन्त रविदेव शास्त्री जी महाराज के नेर्तत्व में युवा भारत साधु समाज के सन्तो ने नगर मजिस्ट्रेट के माध्यम से प्रधानमंत्री के नाम एक ज्ञापन पत्र प्रेषित कर दिल्ली में धरना दे रहे किसानों की समस्याओं का तत्काल समाधान करने की मांग की है , युवा सन्तो ने किसानों की समस्याओं का समाधान ना होने पर हरिद्वार कुम्भ मेला हरिद्वार के पूर्ण बहिष्कार की चेतावनी दी हैं ,

इस अवसर पर वक्ताओं ने कहा कि देश का अन्नदाता देश की जनता को हर परिस्थिति में अन्न उपलब्ध कराने का कार्य करता हैं , हिन्दू धर्म में अन्न को देवता कहा गया हैं तो अन्न पैदा करने वाले को क्या कहा जाता हैं , यह आप से अच्छा कोई दूसरा नही जानता , किन्तु आज वही किसान दिल्ली की सड़कों पर अपने अधिकारों के लिये धरना प्रदर्शन कर रहा है, तो राजनीति करने वाले बेशर्म लोग किसानों के आंदोलन को उग्रवाद से जोड़ने का षड्यंत्र रच रहे है, ऐसे लोग कुछ भी हो सकते लेकिन भारत माँ के सपूत नही हो सकते , किसानों के आंदोलन को धर्मो में बाटने का प्रयास किया जा रहा है , किसानों पर मुकदमें दर्ज किये जा रहे है ,ये सब वो किसान है जो आपके नेर्तत्व में भारत और कृषि का उज्ज्वल भविष्य देखते है ,केंद्र सरकार ने देश के अन्नदाताओं के आंदोलन को गंभीरता से अभी तक नहीं लिया हैं , इसलिए युवा भारत साधु समाज को देश के अन्नदाताओं के समर्थन में बाध्य होकर आज प्रदर्शन करते हुये आपको यह ज्ञापन पत्र प्रेषित करना पड़ रहा हैं , जिस पर आप से देश के अन्नदाताओं की समस्याओं का तत्काल समाधान किये जाने की अपेक्षा की गई हैं , यदि समय रहते दिल्ली में धरना दे रहे किसानों की समस्याओं को दूर नही किया गया तो युवा भारत साधु समाज कुम्भ मेला हरिद्वार का पूर्ण बहिष्कार करेगा ।

इस अवसर पर राष्टीय प्रवक्ता महन्त लोकेश दास जी महाराज , महन्त सुतीक्षण मुनि जी महाराज , महन्त दिनेश दास, महन्त हरिहरा नंद जी महाराज , महन्त सुमित दास , महन्त श्याम प्रकाश , महन्त श्रवण मुनि जी महाराज , महन्त ऋषभ वशिष्ठ जी महाराज , राजेश रस्तौगी आदि उपस्थित थे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *