अगले 2 वर्षों तक कोरोनावायरस के रहने की उम्मीद- डॉ रविकांत मलिक, एम्स निदेशक,

हरिद्वार/सुमित यशकल्याण

हरिद्वार। श्री रामकृष्ण मिशन सेवाश्रम कनखल के सचिव स्वामी नित्यशुद्धानंद महाराज ने आज एम्स ऋषिकेश के निदेशक पदमश्री डॉ रवि कांत से मिशन के साधु संतो के साथ मुलाकात की और उन्हें स्वामी विवेकानंद रामकृष्ण परमहंस के चित्र और साहित्य भेंट किए।
इस मौके पर स्वामी जी ने संतों और चिकित्सकों के साथ कोरोना महामारी के बढ़ते प्रकोप के विषय में चर्चा की और इसे रोकने में हेल्थ केयर प्रोवाइडर की महत्वपूर्ण भूमिका की सराहना की ।उनके साथ स्वामी दयाधिपानंद (डॉ शिवकुमार )महाराज, स्वामी महिमानंद , स्वामी हरि महिमानंद, स्वामी आनंदयानंद थे।
स्वामी नित्यशुद्धानंद महाराज के पूछने पर कि कोरोना महामारी का समय कब तक रहेगा जिस पर साधु-संतों को एम्स के निदेशक डॉ रविकांत ने कहा कि 2 वर्ष तक इस महामारी के रहने की संभावना है डॉक्टर रविकांत ने कहा कि ऐसे में जान को बचाना हमारी प्राथमिकता है इसी के लिए अस्पताल में अनिवार्य कार्य किया जा रहा है चिकित्सकों के द्वारा स्वामी नित्य सुधानित्यशुद्धानंद ने कोरोना वारियर्स को आश्वासन दिया कि उनका यह संदेश की शारीरिक दूरी 2 गज की दूरी एवं मास्क पहनना है जरूरी यह है कोरोनावायरस से बचने का पहला सुरक्षित उपाय है ।
उन्होंने कहा शारीरिक दूरी रखना है लेकिन मन से हमें पूरे संसार को वसुदेव कुटुंबकम मानते हुए अधिक निकटता से जुड़ना है ताकि हम इस महामारी का सामना कर सके स्वामी दयाधिपानंद ने कहा अगर जान बचेगी तो जो भी माली नुकसान इस महामारी द्वारा हुआ है उसकी भरपाई हम 2 साल में कर लेंगे किंतु अगर जान ही नहीं होगी तो धन का कोई लाभ नहीं इसलिए सबसे पहले सबको अपनी सुरक्षा को प्राथमिकता देनी होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *