सेव गर्ल अभियान के तहत अस्पताल मे प्रसूता महिलाओ का किया सम्मान,कन्या भ्रूण हत्या रोकने की अपील— रोटरी क्लब,

हरिद्वार। रोटरी क्लब कनखल के सदस्यों ने प्रेम नर्सिंग होम ज्वालापुर में सेव गर्ल अभियान के तहत अस्पताल में नवजात शिशुओं की माताओं का सम्मान करते हुए कन्या को जन्म देने वाली माताओं का उत्सावर्द्धन किया। इस दौरान रोटेरियनों ने कन्या भ्रूण हत्या रोकने की अपील भी की। अध्यक्ष प्रदीप तोमर ने कहा कि बालक बालिकाओं में किसी भी प्रकार की असमानता नहीं रखनी चाहिए। समान रूप से बच्चों की परवरिश की जाए। उन्होंने कहा कि कन्याएं देवी का रूप होती हैं। बालिकाओं के संरक्षण संवर्द्धन में अपना योगदान अवश्य दें। अस्तपाल में कन्याओं को जन्म देने वाली माताओं का सम्मान अवश्य किया जाना चाहिए। परिवार में भी उनको उचित सम्मान मिलना चाहिए। बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की सार्थकता तभी संभव है। जब मिलजुल कर कन्याओं के संरक्षण संवर्द्धन में प्रयास किए जाएं। डा.संध्या शर्मा ने कहा कि भारत देश में कन्याओं को देवी का दर्जा दिया जाता है। रोटरी क्लब कनखल द्वारा चलाया जा रहा जागरूकता अभियान अवश्य ही समाज को प्रेरणा देने वाला है। बालिका बचाओ अभियान समाज के लिए जरूरी है। उन्होंने कहा कि कन्या भ्रूण हत्या अभिशाप है। कन्याओं का जन्म देने वाली माताओं को अपने आप पर गर्व करना चाहिए।

इस मौके पर समाजसेवी डॉक्टर विशाल गर्ग ने क्या संदेश दिया आप भी सुनिए,

विशाल गर्ग नेे कहा कि रोटेरियन लगातार समाज को जागरूक करने का काम कर रहे हैं। गंगा स्वच्छता, रक्तदान, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, पर्यावरण संरक्षण आदि को लेकर जनचेतना अभियान चलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि समाज का अभिन्न हिस्सा होती हैं। उनका भरणपोषण अच्छे से किया जाना चाहिए। कन्या भ्रूण हत्या को रोकने के लिए बड़े पैमाने पर जागरूकता अभियान चलाए जाएं। इस अभिशाप को समाज से समाप्त करना है। रोटरी क्लब सामाजिक गतिविधियों में हिस्सा लेता चला आ रहा है।

सरिता अग्रवाल व नरेश रानी गर्ग ने प्रेमनगर नर्सिंग होम में नवजात कन्या को जन्म देने वाली माता को सम्मानित करते हुए कहा कि बालिकाएं समाज की धरोहर हैं। समाज में फैले बेटा बेटी के भेदभाव को हमें स्वयं समाप्त करना चाहिए। बेटा बेटी को शिक्षित कर समाज को गति प्रदान करें।

इस दौरान अशोक सप्रा, प्रवीन चावला, राकेश अग्रवाल, केशव जोशी, पुलकित गर्ग, मोहित अग्रवाल, अंजू तोमर, कंचन जोशी आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *